Categories: Poetry

अलि-अवली मधुरस पी जायेगी सारा

अलि-अवली मधुरस पी जायेगी सारा,
मधु-मुकुल! तुम्हें छिपकर रहना होगा।
हे! कुसुम कली,तुम जिस मधुकर के लिये बनी,
इन्तज़ार में उस मधुकर के रहना होगा।
पुलक तुम्हारी दशों दिशाओं महक रही है,
तुम्हें देख,जग उरा-कामिनी बहक रही है।
निज उर का उद् गार तुम्हें भी कहना होगा,
इन्तज़ार में उस मधुकर के रहना होगा।
भरी माधुरी भ्रमर अनेकों आते होंगे,
प्रियतम की यादों के शूल सताते होंगे।
हाय..सखी री! समय विरह का सहना होगा,
इन्तज़ार में उस मधुकर के रहना होगा।

This post was last modified on November 21, 2019 6:38 am

Akhilesh Sorari

उर्ष-ए-वीराँ में तरन्नुम सी कोई। बज रही सरगम मेरी धडकन में कोई।

Recent Posts

Site De Rencontre Gratuit En Algerie

Si vous êtes intéressé par une sortie d’un soir de temps en temps, consultez les annonces sexe d’Amissexy, découvrez les…

1 week ago

Coronavirus in Uttarakhand: Latest Updates on Covid-19 in Uttarakhand, India

Coronavirus in Uttarakhand: There are total 72 reported cases of Coronavirus or Covid-19 in Uttarakhand so far as of 13…

7 days ago

उत्तराखंडी फिल्म “माटी पहचान” – Uttarakhandi Movie “Maati Pehchaan”

Uttarakhandi Movie "Maati Pehchaan" उत्तराखंडी फ़ीचर फिल्म "माटी पहचान" का दूसरा आधिकारिक टीज़र 3 मार्च 2020 को फार्च्यून टॉकीज़ मोशन…

2 months ago

Best Places to Visit in Uttarakhand

Char Dham Yatra

Similar Places