Categories: Pahari Movie

उत्तराखंडी फिल्म “माटी पहचान” – Uttarakhandi Movie “Maati Pehchaan”

Uttarakhandi Movie “Maati Pehchaan”

उत्तराखंडी फ़ीचर फिल्म “माटी पहचान” का दूसरा आधिकारिक टीज़र 3 मार्च 2020 को फार्च्यून टॉकीज़ मोशन पिक्चर्स के यूट्यूब चैनल पर रिलीज़ किया गया। फार्च्यून टॉकीज़ मोशन पिक्चर्स के बैनर तले फ़राज़ शेर द्वारा निर्मित और अजय बेरी द्वारा निर्देशित यह फिल्म उत्तराखंड के पलायन जैसे ज्वलंत मुद्दे को उठाती है जो कई वर्षो से पहाड़ो की समस्या बना हुआ है।

जब हर तरफ़ “माटी पहचान” को पलायन पर आधारित फिल्म समझा जा रहा था तब इसके दूसरे आधिकारिक टीज़र CHAPTER II “DAUGHTER OF THE MOUNTAINS” ने पहाड़ के एक और गंभीर मुद्दे को उठाते हुए उत्तराखंड में चर्चाओं का बाज़ार गर्म कर दिया है, जिससे इस बात को और भी मजबूती मिली है कि ये फिल्म उत्तराखंड के लोगो की अपेक्षा से कही परे कई और मुद्दों को उठाएगी जो बेहद सराहनीय काम है।

फिल्म में उत्तराखंड की उन बेटियों पर भी ध्यान केंद्रित किया गया है जिनकी आकांक्षाएँ समाज के डर में दबी रह जाती है और कुछ बेटियां अपनी मेहनत और लगन से समाज के डर से आगे बढ़कर कुछ बड़ा कर जाती है। इसी वजह से इसके टीज़र को “DAUGHTER OF THE MOUNTAINS” का नाम दिया गया है और अपने इसी नाम के चलते ये टीज़र काफ़ी चर्चाओं में भी है।

“माटी पहचान” का ये टीज़र “DAUGHTER OF THE MOUNTAINS” पहाड़ की बेटियों के उस संघर्ष को सामने लाता है जिससे हर बेटी को ऐसे दौर से गुजरना पड़ता है जब उसे समाज के और अपने सपनो के बीच चयन करना होता है।

टीज़र के बारे में बात करते हुए, फिल्म के निर्माता फ़राज़ शेर ने कहा, “अगर आप उत्तराखंड के भीतर प्रमुख शिक्षण संस्थानों की संख्या पर नज़र डालें, तो यह वास्तव में आश्चर्यजनक है। ऐसे समय में जब दुनिया भर में और यहां तक कि हमारे देश के शहरी हिस्सों में महिलाएं समाज की अगवाई कर रही हैं, फिर उत्तराखंड की लड़कियों को भी ऐसा करने के लिए प्रोत्शाहित क्यों नहीं किया जा सकता है? ”

फ़राज़ ने कहा, “जब शैक्षणिक संस्थान में फिल्म के एक हिस्से की शूटिंग करने की बात आई तो हम देश भर के किसी भी बड़े संस्थान में शूटिंग कर सकते थे। लेकिन हम प्रामाणिकता बनाए रखना चाहते थे और उत्तराखंड में ही फिल्म की शूटिंग करना चाहते थे। और तब हमने ग्राफिक एरा विश्वविद्यालय, भीमताल में इसको शूट करने का कदम उठाया। आधुनिक नवीनतम संस्थान और बुनियादी सुविधाओं से लेस होने के साथ साथ इसकी सुंदरता वाकई देखने लायक है, जिसकी वजह से यहाँ शूटिंग करने का फैसला हमारी फिल्म के लिए एकदम सही था।”

“माटी पहचान” अपनी तरह की पहली फिल्म है जो उत्तराखंड में केवल स्थानीय प्रतिभाओं, संसाधनों और स्थानों का उपयोग करके बनाई गई है, जो अपने ट्रीटमेंट, सौंदर्य और उत्पादन मूल्य के मामले में मुख्यधारा के बॉलीवुड फिल्म के बराबर है।

उत्तराखंडी फ़ीचर फिल्म “माटी पहचान” Maati Pehchaan Official Teaser: Chapter I

Maati Pehchaan Official Teaser: Chapter II

Mi Jab Re | Holi Song 2020 | Maati Pehchaan

The story of Uttarakhandi movie ‘Maati Pehchaan’ is set amid the backdrop of Uttarakhand and deals with the burning issue of migration. Migration, which is not a problem relegated only to Uttarakhand, but is also an issue of grave concern for all the people belonging to all mountain areas. With an increasing amount of people selling their ancestral lands and moving out to the metro cities, the fading culture, tradition, and language of Uttarakhand beckons to its lost sons and daughters.

The film also focuses on female empowerment through education following a strong and level-headed female protagonist. It is through her that we approach the film and convey its underlying messaging.

The main drive of the film is to urge the people of the region to come back to their homeland and reclaim their identity. This identity which comes through their association with their motherland. This identity which stays with them even after they leave their homes and their people.

This post was last modified on March 7, 2020 12:59 pm

Atul Rana

Recent Posts

Site De Rencontre Gratuit En Algerie

Si vous êtes intéressé par une sortie d’un soir de temps en temps, consultez les annonces sexe d’Amissexy, découvrez les…

1 week ago

Coronavirus in Uttarakhand: Latest Updates on Covid-19 in Uttarakhand, India

Coronavirus in Uttarakhand: There are total 72 reported cases of Coronavirus or Covid-19 in Uttarakhand so far as of 13…

6 days ago

Dehradun Mussoorie Ropeway Project: Doon to Mussoorie in 16 Minutes

Dehradun-Mussoorie ropeway project, the much-awaited project is introduced by Chief minister Trivendra Singh Rawat on March 06, 2019. The length…

3 months ago

Best Places to Visit in Uttarakhand

Char Dham Yatra

Similar Places