देवभूमि की आह – पलायन

देवभूमि की आह – पलायन हरे भरे पेड़ो से आच्छादित जंगल, इसके बीचोंबीच से लहलहाती जाती हुई नदियाँ जो अमृत जल से लबालब हैं, और कुछ ही दूरी पर एक सुन्दर सा गाँव, जिसमें कोई अपने खेतों में काम करता हुआ दिख रहा है तो कुछ लोग ठन्डे ठन्डे मौसम में धूप सेंकने झुण्ड बनाकर … Read more

error: